दरभंगा – छात्र संघ ने कुलपति को 20 सूत्री मांगों का सौंपा ज्ञापन

दरभंगा – छात्र संघ ने कुलपति को 20 सूत्री मांगों का सौंपा ज्ञापन

छात्र संघ ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय द्वारा माननीय कुलपति प्रोफेसर सुरेंद्र कुमार सिंह को 20 सूत्री मांग पत्र छात्र संघ एवं महासचिव उत्सव पराशर के नेतृत्व में सौंपा गया।

20 सूत्री मांग निम्नवत है:-

  1. विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों में स्नातक और स्नातकोत्तर में छात्रों के लिए डिजिटल आई कार्ड एवं ड्रेस कोड लागू की जाए।
  2. विश्वविद्यालय क्षेत्र अंतर्गत विभिन्न महाविद्यालयों के छात्रावास में मेष की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।
  3. बेगूसराय सहित सभी जिलों में छात्रों की समस्याओं के समाधान हेतु उप केंद्र अविलंब सुचारू रूप से शुरू की जाए।
  4. विश्वविद्यालय एवं विभिन्न महाविद्यालयों में प्रयोगशाला के उपकरण उपलब्ध हो एवं प्रायोगिक के शिक्षक अविलंब सुनिश्चित की जाए।
    5 विश्वविद्यालय परिसर में छात्र एवम छात्राओं के लिए अलग-अलग शौचालय की व्यवस्था की जाए।
    6.विश्वविद्यालय क्षेत्र अंतर्गत विभिन्न महाविद्यालयों में शारीरिक शिक्षकों की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।
  5. विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों के विभिन्न महिला महाविद्यालय के साथ अन्य सभी महाविद्यालयों में छात्राओं के लिए सेनेटरी नैपकिन के साथ वे्डिंग मशीन लगाया जाए।
  6. विश्वविद्यालय के विभिन्न महाविद्यालयों में वोकेशनल कोर्स शुरू की जाए जिससे छात्र रोजगार परक शिक्षा प्राप्त कर सके।
  7. विश्वविद्यालय के विभिन्न महाविद्यालयों में सिलेबस के अनुसार पुस्तकालयों में पुस्तक की उपलब्धता अभिलंब सुनिश्चित की जाए।
  8. विश्वविद्यालय के विभिन्न महाविद्यालय जो सुदूर ग्रामीण क्षेत्र में स्थित है वहां उच्च शिक्षा के लिए छात्रों को काफी दूर जाना पड़ता है उनके लिए स्नातक एवं स्नातकोत्तर की पढ़ाई विभिन्न जिलों में शुरू की जाए।
  9. सीएम लॉ कॉलेज में एल एल एम की पढ़ाई अभिलंब शुरू की जाए।
    12.विश्वविद्यालय के विभिन्न महाविद्यालय एवं समस्तीपुर कॉलेज में लैंग्वेज लैब जो जीर्ण शीर्ण अवस्था में है उसे अविलंब चालू की जाए!
  10. विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों में एनसीसी एवं एनएसएस में छात्र स्वयंसेवकों को समुचित व्यवस्था उपलब्ध की जाए।
  11. विश्वविद्यालय परिसर में विभिन्न स्थानों पर सीसीटीवी कैमरा लगाया जाए एवं विश्वविद्यालय क्षेत्र अंतर्गत विभिन्न महाविद्यालयों में भी छात्र एवं छात्राओं की सुरक्षा मापदंड हेतु सीसीटीवी कैमरा लगवाने का प्रावधान अभिलंब की जाए।
  12. विश्वविद्यालय कैंटीन में आम छात्र छात्राओं के लिए अलग से खाने की व्यवस्था एवं परिचय पत्र अनिवार्य किया जाए।
  13. महिला प्रौद्योगिकी संस्थान में पूर्व में घोषणा के अनुरूप एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई शुरू होने को प्रावधान था परंतु अभी तक शुरू नहीं हुआ इसे अविलंब शुरू की जाए।
  14. विश्वविद्यालय के विभिन्न महिला महाविद्यालय में छात्राओं के लिए अलग से छात्रावास की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।
  15. विश्वविद्यालय क्षेत्र अंतर्गत सभी महाविद्यालय में कर्मचारी एवं स्वीपर की अभिलंब व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।
  16. विश्वविद्यालय में स्नातक स्नातकोत्तर तक विभिन्न खंड एवं सेमेस्टर की परीक्षाओं में प्रवेश पत्र पर विषय वार परीक्षा की तिथि अंकित की जाए 20.विभिन्न महाविद्यालयों में क्षमता से अधिक छात्रों का नामांकन लिया जाता रहा है परंतु में पढ़ाने के लिए उपयुक्त शिक्षक एवं भवन नहीं है बिना ज्ञान डिग्री बांटने का सिलसिला बंद किया जाए अन्यथा शिक्षकों की नियुक्ति अभिलंब की जाए एवं भवन सुनिश्चित की जाए।

इस अवसर पर छात्र संघ उपाध्यक्ष राजा कुमार ने कहा कि छात्र संघ की ओर से पूर्व में भी छात्र के मूलभूत सुविधाओं को लेकर माननीय कुलपति महोदय के समक्ष छात्र संघ अपनी मांग रख चुका है लेकिन विश्वविद्यालय के शैक्षणिक एवं मूलभूत आवश्यकताओं को अभी तक पूरा नहीं किया गया।

छात्र संघ महासचिव उत्सव पराशर ने कहा कि आज मिथिला विश्वविद्यालय बिहार के अग्रणी विश्वविद्यालय बनकर उभरा है परंतु यहां शैक्षणिक एवं मूलभूत समस्याओं की घोर कमी है जिस पर विश्वविद्यालय छात्र संघ में पूर्व में भी ध्यानाकर्षण कराया था परंतु मांगों को अभी तक पूरा नहीं किया गया।
छात्र संघ के संयुक्त सचिव रिशव कुमार चौधरी ने कहा कि विश्वविद्यालय छात्रों की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए यह मांग की 10 दिनों के अंदर मांगों को पूरा किया जाए।
छात्रसंघ कोषाध्यक्ष मनीष कुमार ने कहा कि विश्वविद्यालय छात्र संघ छात्रों की समस्याओं के लिए हमेशा प्रतिबद्ध है एवं छात्रों के मूल समस्याओं को को लेकर हमेशा आवाज बुलंद करती रहती है। छात्र संघ की भी सूत्री मांगों को यदि विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा 10 दिनों के अंदर पूरा किया जाए अन्यथा विश्वविद्यालय छात्र संघ विश्वविद्यालय परिसर में अनिश्चितकालीन धरना एवं उग्र आंदोलन करने को बाध्य होगा जिसका जिम्मेदारी विश्वविद्यालय प्रशासन की होगी। इस अवसर पर सीएम कॉलेज के छात्र संघ महासचिव संदीप कुमार एवं वहां के छात्र दीपक कुमार उपस्थित थे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *