राजनीति : भावी मुख्यमंत्री के होर्डिंग में उपेंद्र कुशवाहा के नाम से जदयू में घमासान …….

 

 

 

 

 

 

 

 

राजनीति : भावी मुख्यमंत्री के होर्डिंग में उपेंद्र कुशवाहा के नाम से जदयू में घमासान …….

डेस्क – डीबीएन न्यूज़ / डीबीएन टीवी
मुजफ्फरपुर , बिहार
23 अगस्त 2021

बिहार में सत्ताधारी पार्टी जदयू लगातार गलत कारणों से सुर्खियों में है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह और केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह के बीच मनमुटाव की चर्चा अभी थमी भी नहीं थी कि अब जदयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा को भावी मुख्यमंत्री बताते हुए मुजफ्फरपुर में होर्डिंग से सुगबुगाहट तेज हो गई। पार्टी का एक धड़ा इसको लेकर खुश नहीं है और होर्टिंग लगाने वालों पर कार्रवाई की मांग कर रहा है।  उपेंद्र कुशवाहा के मुजफ्फरपुर दौरे से पहले कुशवाहा महासभा और अखिल भारतीय सम्राट अशोक समता परिषद  की ओर से कलेक्टरेट में यह होर्डिंग लगाया गया है। इसमें उपेंद्र कुशवाहा के साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की भी तस्वीर है। पिछले दिनों उपेंद्र कुशवाहा द्वारा नीतीश कुमार को पीएम मेटेरियल बताए जाने के बाद इस होर्डिंग के लगने से कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। पोस्टर में नीतीश कुमार के करीबी और पूर्व मंत्री मनोज कुशवाहा और उपेंद्र कुशवाहा के करीबी रहे  विनोद कुशवाहा की तस्वीर होने से उलझन पैदा हो रही है रालोसपा के जदयू में विलय के बाद से उपेंद्र कुशवाहा का कद पार्टी में लगातार बढ़ रहा है। इन दिनों वह पार्टी के संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष की हैसियत से पूरे बिहार की यात्रा पर हैं।

खुलकर नही बोल रहे पार्टी के बड़े नेता

 

 

 

 

 

 

 

 

इस होर्डिंग को लेकर जदयू के जिला से लेकर हमने जदयू के कई नेताओं से संपर्क साधा, लेकिन किसी ने भी खुलकर कुछ कहने से इनकार कर दिया। पार्टी प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा ने जहां कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया, वहीं पूर्व मंत्री मनोज कुशवाहा ने इस पर अनभिज्ञता जताई। उन्होंने कहा, “हम भी पता लगा रहे हैं कि होर्डिंग किसने लगाया है।” होर्डिंग में मनोज कुशवाहा की भी तस्वीर है। 

मुजफ्फरपुर जिलाध्यक्ष सख्त

 

 

 

 

 

 

 

 

 

दूसरी तरफ, मुजफ्फरपुर के जिला अध्यक्ष मनोज सिंह के तेवर होर्डिंग को लेकर सख्त हैं। वह कहते हैं, “पार्टी में कुछ लोग यह सब करके गुटबाजी कर रहे\ हैं। होर्डिंग की तस्वीर उपेंद्र कुशवाहा को भेज दी गई है और पोस्टर लगाने वालों पर कार्रवाई की मांग की गई है।” मनोज सिंह ने बताया कि उपेंद्र कुशवाहा भी इस होर्डिंग से खुश नहीं हैं।

26 अगस्त को मुजफ्फरपुर आ रहे उपेन्द्र कुशवाहा

 

 

 

 

 

 

उपेंद्र कुशवाहा 26 अगस्त को मुजफ्फरपुर आने के बाद पार्टी के कार्यक्रमों के साथ-साथ वे जिले के लगभग सभी प्रखंडों में जाएंगे। कोरोना के शिकार हो चुके कार्यकर्ताओं के घर जाकर परिजनों से मुलाकात करेंगे। एक दलित बस्ती में शाम के नाश्ते का भी कार्यक्रम  है। रात्रि विश्राम के बाद 27 अगस्त की सुबह प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे। उसी दिन उनका मीनापुर में कार्यक्रम है। सूचना है कि वहां एक जाति विशेष से जुड़े कार्यक्रम उन्हें सिक्के से तौला जाएगा और उसके बाद वह शिवहर के लिए रवाना हो जाएंगे।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Source by: hindustan.in

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *